मैटल क्लासिक बेसबॉल संक्रमित मां के दूध से होगा मरीजों का इलाज, 30 महिलाओं में म

Breast Milk संक्रमित मां के दूध से होगा मरीजों का इलाजमैटल क्लासिक बेसबॉल, 30 महिलाओं में मिली एंटीबॉडी

Coronavirus and Breast Milk : कोरोनावायरस का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब इस वायरस से मरीजों को बचाने के लिए दूध का सहारा लिया जाएगा। क्योंकि हाल ही में 30 महिलाओं के दूध में कोरोना वायरस के खिलाफ एंटीबॉडी पाई गईं है। डच वैज्ञानिकों का कहना है कि प्लाज्मा थेरेपी की तरह ही अब मां के दूध का इस्तेमाल भी एंटीबॉडी के रूप में किया जा सकता है। मां के दूध का प्रयोग करके कोरोना पॉजिटिव मरीजों के शरीर में वायरस के खिलाफ प्रतिरक्षा पैदा की (Coronavirus and Breast Milk ) जाएगी। Also Read - कोरोना के मरीजों में दिखा एक और चौंका देने वाला लक्षणमैटल क्लासिक बेसबॉल, इलेक्ट्रॉनिक मैजिक 8 बॉल अचानक प्लेटलेट्स की संख्या होने लगी कम

मां के दूध का आइस क्यूब बनाकर किया जाएगा मरीजों का इलाज

इस बारे में वैज्ञानिकों का कहना है कि अगर कोरोना से संक्रमित मां के दूध का आइस क्यूब मरीजों को चूसने के लिए दिया जाएमैटल क्लासिक बेसबॉल, तो यह उनमें प्रतिरक्षा विकसित करेगी। डच ब्रेस्ट मिल्स बैंक के प्रमुख और शोधकर्ता व्रिट सैम ने इस बारे में कहा कि मां के दूध का आइस क्यूब चूसने से मरीजों के शरीर में मौजूद सभी म्यूकस मेंबरेंस में एंटीबॉडी पहुंच सकती है।  म्यूकस शरीर में एक मोटी परत होती है जो शरीर के श्वसन तंत्र और अन्य हिस्सों को बाहरी रोगाणुओं के प्रवेश से रोकती है। जब इस इस एंटीबॉडी प्रोटीन मिश्रित हो जाएंगी तो कोरोनावायरस शरीर में प्रवेश (Coronavirus and Breast Milk ) नहीं कर सकेंगे। Also Read - सूखी खांसी से हैं परेशान? जानें इसके लक्षण और 3 कारगर घरेलू इलाज

बुजुर्ग मरीजों को होगा लाभ 

शोधकर्ता ब्रिट वैन कुलेन इस बारे में कहना है कि यह आइस क्यूब उन बुजुर्गों को अधिक लाभ पहुंचाएगा, जो घर में रहकर ही कोरोना का इलाज करवा रहे हैं। यानी वे लोग इससे अधिक लाभ पा सकेंगे, जो वायरस के रिस्क ग्रुप में आते हैं। वैज्ञानिकों ने अपने अध्ययन में 30 कोरोना से संक्रमित शिशुवती महिलाओं के दूध में एंटीबॉडी पाई। उन्होंने अपने अध्ययन में देखा कि ये एंटीबॉडी इतने अधिक शक्तिशाली हैं कि इससे स्वस्थ और संक्रमित दोनों तरह के लोगों के शरीर में वायरस के खिलाफ प्रतिरक्षा पैदा की जा सकती है। Also Read - खुशखबरी! स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन ने कहा,मैटल क्लासिक बेसबॉल 2021 की शुरुआत में आ जाएगी कोरोना की वैक्सीन

पांच हजार मांएं करेंगी अपना दूध दान

नीदसलैंड्स स्थित एमा चिल्ड्रन्स हॉस्पिटल व अन्य अस्पतालों के संयुक्त सहयोग से यह अध्ययन किया जा रहा है। इस अध्ययन का पहला चरण अप्रैल में पूरा किया गया। वैज्ञानिकों ने 100-100 ग्राम दूध दान देने की अपील उन महिलाओं से अपील की है, जो कोरोना से संक्रमित हो चुकी हैं और शिशुवत मां हैं। ताकि इसपर और अधिक अनुसंधान हो सके। अब तक इस मामले में पांच हजार महिलाएं आगे आई हैं।

डब्ल्यूएचओ चीफ ने कहा, कोरोना को हराने के लिए वैक्सीन पर वैश्विक सहयोग है जरूरी

चीनी कंपनी का दावा : विश्वभर में उनकी वैक्सीन का है सुरक्षात्मक प्रभाव

Published : August 25, 2020 10:14 am | Updated:August 25, 2020 11:25 am Read Disclaimer Comments - Join the Discussion हांगकांग में शख्स को दूसरी बार हुआ कोविड-19 इंफेक्शन, WHO वैज्ञानिकों ने रखी अपनी रायहांगकांग में शख्स को दूसरी बार हुआ कोविड-19 इंफेक्शन, WHO वैज्ञानिकों ने रखी अपनी राय हांगकांग में शख्स को दूसरी बार हुआ कोविड-19 इंफेक्शन, WHO वैज्ञानिकों ने रखी अपनी राय दिल और गुर्दे की तकलीफ के कारण केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान हॉस्पिटल में भर्तीदिल और गुर्दे की तकलीफ के कारण केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान हॉस्पिटल में भर्ती दिल और गुर्दे की तकलीफ के कारण केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान हॉस्पिटल में भर्ती ,,